बेटियों को संरक्षित करने के लिए सरकार ने भी गंभीरता दिखाई – डॉ. सुनील

24.1.2021

पटना। राष्ट्रीय बालिका दिवस 24 जनवरी को मनाया जाता है। इस दिवस का एक ही उद्देश्य है की लड़कियों और महिलाओं का उद्धार हो और उन्हें वह सभी अधिकार और सम्मान मिले, जो समाज में लड़कों और पुरुषों को मिलता है। इसी कडी में रविवार को संजीवनी आई हॉस्पिटल एवं रिसर्च इंस्टीटयूट,पटना में राष्ट्रीय बालिका दिवस मनाया गया। इस मैकें पर लड़कियों का नि:शुल्क आई चेकअप किया गया। प्रख्यात नेत्र रोग विशेषज्ञ(जदयू नेता) डॉ.सुनील कुमार सिंह ने कहा कि एक वक्त था जब बेटियां घरों से बाहर नहीं निकल पाती थीं, लेकिन आज बेटियां हवाई जहाज और जंगी जहाज उड़ा रही हैं। बुलंद हौसलों से आज आसमान छू रहीं हैं। देश संभाल रही हैं क्या कुछ नहीं कर रही हैं बेटियां। उन्होनें कहा कि सूबे के मुखिया नीतीश कुमार की सरकार कि ओर से बालिका के लिए बहुत अच्छा काम किया गया। बेटियों को पढ़-लिखकर आगे बढ़ाने के मकसद से बिहार सरकार ने बेटियों के लिए एक खास पहल की है। बेटियों को संरक्षित करने के लिए सरकार ने भी गंभीरता दिखाई है। जिससे बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान रफ्तार पकड़ेगी। महिलाएं सशक्त बनेगी। सरकार ने महिलाओं के कल्याण के लिए भी कई निर्णय लेकर बजट में प्रावधान किया है।

Leave a Reply