तेजस्वी ने युवाओं के बाद किसानों को लुभाया, कहा- सत्ता में आए तो कर्ज करेंगे माफ

बीएमपी टाइम्स,पटना। बिहार चुनाव को लेकर आज महागठबंधन ने संकल्प पत्र जारी किया. संकल्प पत्र महागठबंधन की सरकार बनने के बाद घटक दलों के कामकाज की रूपरेखा को तय करेगी. वहीं संकल्प पत्र की घोषणा के मौके पर तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार पर निशाना साधा. वहीं कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि यह चुनाव, नई दिशा बनाम दुर्दशा का चुनाव है. तेजस्वी ने कहा कि सीएम नीतीश 15 सालों में विशेष राज्य का दर्जा नहीं ले सके. तेजस्वी ने कहा कि डबल इंजन की सरकार को विशेष राज्य का दर्जा डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) नहीं देंगे. 
महागठबंधन के संकल्प पत्र की प्रमुख बातें

* राज्य में खाली 4.50 लाख और 5.50 लाख सरकारी पदों पर भर्ती

* राज्य में सरकारी नौकरी के लिए फॉर्म पर लिए जाने वाले शुल्क को माफ किया जाएगा.

* राज्य में किसान कर्जमाफी होगी. किसानों के ऋण को माफ किया जाएगा.

* राज्य में नियोजन प्रथा खत्म की जाएगी. नियोजित शिक्षकों को परमानेंट किया जाएगा.

* विधान सभा के पहले दिन तीनों कृषि बिल के खिलाफ प्रस्ताव पास लायेंगे

* शिक्षा पर राज्य के कुल खर्च का 12 फीसदी हिस्सा खर्च किया जाएगा.

* नौकरशाही में ट्रांसफर प्रक्रिया मेरिट लिस्ट के आधार पर. इसके लिए एसओपी जारी किया जाएगा.

10 लाख रोजगार- इससे पहले, राजद ने ऐलान किया था कि सरकार में आने के बाद बिहार में 10 लाख रोजगार दिए जाएंगे. हालांकि राजद के इस घोषणा को जदयू और बीजेपी ने शिगूफा कहकर जनता से धोखा देने का आरोप लगाया था.

कांग्रेस का ऋणमाफी का ऐलान– वहीं संकल्प पत्र में कांंग्रेस के ऋणमाफी को भी शामिल किया गया है. कांग्रेस मध्यप्रदेश चुनाव से ही अपने संकल्प पत्र में कृषि ऋण माफी योजना को शामिल करती रही है.

Leave a Reply