कोरोना को हराना राज्य सरकार की सबसे बड़ी प्राथमिकता- डॉ.सुनील

Dr. sunil kumar singh 6.5.

पटना: पटना के नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ.सुनील कुमार सिंह , जदयू चिकित्सा प्रकोष्ठ के दक्षिण बिहार का प्रदेश अध्यक्ष ने वैश्विक महामारी कोरोना को देखते हुए राज्य के चिकित्सा प्रकोष्ठ से जुड़े हुए सभी चिकित्सक पराक्रमी व ग्रामीण चिकित्सकों से अनुरोध किया कि वे ामनवता का परिचय देते हुए लोगों की सेवा में जुटे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इस कोरोना महामारी को लेकर काफी सजग हैं और सूक्ष्म अनुश्रवण करआवश्यकनिर्देशदेरहे हैं। उन्होंने कहा कि इस बीमारी से बचाव के लिए दो गज दूरी, मास्क है जरूरी का पालन करें और नियमित हाथ धोएं तथा अति जरूरत पड़ने पर ही घर से बाहर निकलें। कोरोना के दूसरे लहर के मद्देनजर आम जनों के जान माल की सुरक्षा के प्रति विभाग पूरी तरह सचेत और सतर्क है। अस्पतालों में कोरोना बेड की संख्या में वृद्धि और टेस्टिंग व ट्रीटमेंट सुविधा को बेहतर करने का निदेश दिया गया है। अनुमंडल अस्पतालों में कोरोना मरीजों की बेहतर व्यवस्था का निदेश दिया गया है जो डेडीकेटेड हेल्थ सेंटर के रूप में काम करेगा। स्वास्थ्य विभाग का लक्ष्य है कि कोरोना संक्रमित की जांच रोजाना एक लाख के करीब हो। इसमें आरटीपीसीआर टेस्ट की संख्या अधिक से अधिक हो।बेड की संख्या बढ़ाने,ऑक्सीजन के सप्लाई और कोरोना से संबंधित जरूरी दवाई के लिए बिहार सरकार तत्पर है।

Leave a Reply